कृषक उत्पादक संगठनों व एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फण्ड मानिटरिंग समिति की बैठक सम्पन्न

0
0

रिपोर्ट- रवीन्द्र त्रिपाठी

फतेहपुर। गुरुवार पूर्वाह कृषक उत्पादक संगठनों व एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फण्ड के जनपद में क्रियान्वयन हेतु गठित जनपद स्तरीय मॉनिटरिंग समिति की बैठक विकास भवन सभागार में मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई. बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि भारत सरकार द्वारा देश मे दस हजार कृषक उत्पादक संगठनों का गठन होना है. चूंकि जनपद फतेहपुर अकांक्षात्मक जनपद है इसलिये यहां के प्रत्येक विकास खंड में एक एफपीओ का गठन होना है. जनपद में दलहन, तिलहन, सब्जी व फल के उत्पादन में अग्रणी है. परन्तु किसानों को ग्रेडिंग, पैकिंग व प्रसंस्करण की तकनीकी न होने से किसानों को उचित दाम नही मिल पाता है और किसानों की आय में वृद्धि नही हो पा रही है. उन्होंने कहा कि जनपद में छः विकास खंड (अमौली, खजुहा, बहुआ, असोथर, विजयीपुर, धाता) दलहन, तिलहन हेतु एवं सात विकास खंड (देवमई, मलवां, भिटौरा, हसवां, तेलियानी, हसवां, हथगाम, ऐरायां) सब्जी एवं फलों का क्लस्टर रखने हेतु सहमति बनायी गयी.जहां पर किसान उत्पादक संगठनों का गठन किया जाए. जिला प्रबंधक नाबार्ड फतेहपुर, पंकज कुमार त्रिपाठी ने बताया कि भारत सरकार के दिशा निर्देश के क्रम में कृषक उत्पादक संगठनों का गठन किया जाना है और एफपीओ में कम से कम तीन सौ सदस्य होंगे जो उस संगठन के शेयर धारक सदस्य होंगे. इसके साथ ही एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर फंड योजना भी संचालित है. जिसके तहत पैक हॉउस, भंडार गृह रूरल गोडाउन, सॉर्टिंग व ग्रेडिंग, रेपिनिंग चेम्बर, जैविक खाद उत्पादन जैसी विभिन्न गतिविधियों के लिए दो करोड़ तक के ऋण में तीन प्रतिशत व्याज में छूट प्रदान की जाएगी. इस अवसर पर उप कृषि निदेशक अनिल कुमार पाठक, जिला उद्यान अधिकारी रामसिंह, एलडीएम वीडी मिश्र, डीएमआई से डॉ० वीएस यादव, आरके शर्मा, के०वी०के० से जितेन्द्र सिंह, प्रज्ञा समिति के सचिव उमेश चन्द्र शुक्ल उपस्थित रहे.

फतेहपुर : रामनगरी में राममंदिर भूमि पूजन की खुशी में भाजपा जिला मंत्री ने बांटी मिठाई

फतेहपुर : चोरी की बाइक के साथ एक गिरफ्तार, गिरोह की तलाश में जुटी पुलिस

विहिम ने ध्वज पूजन कर, प्रभु श्रीराम आरती के बाद हुआ प्रसाद वितरण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here