डेस्क रिपोर्ट। मात्र 3 दिन की सुहागिन इनकी बेटी लेकिन यूपी पुलिस ने इस तीन दिन की सुहागिन के बाद विधवा हुई ख़ुशी को कानपुर कांड के आरोपी और इनकाउंटर मेे मारे गए अमर दुबे के कारण जेल मेे रखा है.

खैर, घटनाक्रम देखिए और सोचिए :
29 जून 2020 को शादी 30 जून को विदाई 2 जुलाई की रात की कानपुर घटना और 3 जुलाई की सुबह पुलिस उठा ले गई 4 जुलाई को विधवा और 5 जुलाई को पुलिस ने खुशी दुबे को जेल भेज दिया. पुलिस के कार्य शैली पर कहीं न कहीं कुछ तो सवाल खड़े हो रहे है. पुलिस अपराधी को पकड़े न कि किसी निर्दोष को जेल भेजे.

खुशी दुबे के माता-पिता का बयान :
खुशी दुबे के माता-पिता ने कहाकि हम इतनी हिम्मत नहीं रखते कि अपनी बेटी को देखने जेल तक चले जाएं. हमें डर है कि बेगुनाह बेटी को जब पुलिस वालों ने आरोपी बनाकर जेल भेज दिया तो कहीं हमें भी जेल ना भेज दे क्योंकि बेटी को जन्म तो हम ही ने दिया था.

बिग बी परिवार में कोरोना लक्षण मिलने पर प्रशसंकों ने की स्वास्थ्य लाभ की कामना

कोरोना ने बॉलीवुड में दी दस्तक

सप्ताहिक बन्दी में योगी सरकार ने किया फेरबदल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here