रिपोर्ट- ज्ञान प्रकाश त्रिवेदी

कानपुर। बिधनू दहेली गांव में मंगलवार तड़के बीए के छात्र ने धन्नी के सहारे अंगौछे के फंदे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. सुबह छोटी बहनों ने शव फंदे से लटका देखा तो चीखते हुए घर से बाहर भागी. दहेली निवासी किसान देशराज का एकलौता 19 वर्षीय बेटा अंकित बीए तृतीय वर्ष का छात्र था. चार वर्ष पहले मां रेखा की बीमारी से मौत हो गई थी. बुधवार रात को पिता देशराज गांव के बाहर बने पशु बाड़े में सोने गए हुए थे. घर पर अंकित संग दो छोटी बेटियां लक्ष्मी और आकांक्षा थी. सुबह लक्ष्मी और आकांक्षा ने देखा भाई का शव फंदे पर लटक रहा है. जिस पर वह चीक पुकार करते हुए घर बाहर खड़ी हो गई. एकत्र पड़ोसियों ने शव नीचे उतरा. थाना प्रभारी पुष्पराज सिंह ने बताया कि स्वजनों ने घटना की जानकारी नहीं दी है मामले की जांच की जाएगी.

अमर उजाला फाउंडेशन के तत्वावधान में जिलाधिकारी ने मेधावी छात्र-छात्राओं को किया सम्मानित

योगी राज के ‘रामराज्य’ में महिलाएं नही सुरक्षित : आराधना मिश्रा

गिरोह बनाकर चोरी करने के आरोप में तीन चोरों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here