फतेहपुर : कारगिल युद्ध में अमर शहीद विजय पाल की 22वीं पुण्यतिथि पर नम हुई आंखे

0
200

Spread the love

रिपोर्ट- रवीन्द्र त्रिपाठी

फतेहपुर। अमौली विकास खंड के ग्राम झाऊपुर में अमर शहीद विजयपाल यादव की 22वीं पुण्यतिथि मनाई गई. लोगो ने श्रद्धा सुमन अर्पित कर कारगिल युद्ध में 10 जून 1999 के दौरान उनके साहस व पराक्रम को याद करते हुए 22वीं पुण्यतिथि पर नम आंखों से श्रद्धांजलि फी गई. कारागार राज्य मंत्री जय कुमार सिंह जैकी के प्रतिनिधि कैलाश नारायण शर्मा, समाजसेवी राजेंद्र पटेल, एडीओ दिनेश वर्मा सहित तमाम लोगों ने अमर शहीद विजयपाल की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित करते हुए श्रद्धा सुमन अर्पित किया. इसके साथ-साथ पूर्व में हुए कारगिल युद्ध की याद को ताजा करते हुए उनके द्वारा मुल्क की रक्षा करने के दौरान शहीद होने पर उनके कौशल व पराक्रम की सराहना की. इस दौरान शहीद विजय पाल यादव की माता सुखदेवी व पिता राम सागर का हौसला बढ़ाते हुए ऐसे वीर सपूत की याद पर लोगों ने हौसला हौफजाई किया तथा उनके वीर सपूत की द्वारा कारगिल विजय में दिए गए योगदान को बताया गया. राजेन्द्र पटेल ने अमौली बस में झाऊपुर आने वाले रास्ते पर शहीद के नाम से तोरण द्वार बनाने की मांग वर्तमान सरकार से की, साथ ही कारागार मंत्री प्रतिनिधि ने शहीद स्थल को पार्क के रूप में सजाने सवारने एवं तोरण द्वार बनवाने का वचन दिया. प्रकाश वीर आर्य ने कारगिल युद्घ के समय को याद करते हुए बताया कि पहली बार तब शहीद शब्द का सही मायने मे अर्थ पता चला था. श्रद्धाजंलि कार्यक्रम के साथ वृक्षारोपण भी किया गया. कार्यक्रम का संचालन अनवर सिंह यादव ने किया।इस मौके पर रजत प्रताप सिंह, प्रकाश वीर आर्य, अनुराग शुक्ला, कृष्ण कुमार सविता, राजन यादव सहित अमर शहीद विजयपाल यादव के भाई अजय पाल यादव, आर्य कुमार,जोर सिंह यादव जितेंद्र यादव जितेंद्र वर्मा इत्यादि मौजूद रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here