केंद्रीय शहरी विकास एवं आवासन मंत्रालय भारत सरकार द्वारा ज्योति बाबा को नशा मुक्त भारत चैंपियन ट्रॉफी से किया सम्मानित

0
14

Spread the love

रिपोर्ट- रंजीत रावत

लखनऊ,24मई l नशा मुक्त भारत अभियान को सफल बनाना हर भारतीय का धर्म बने क्योंकि विदेशी हमले अप्रत्यक्ष नहीं होंगे बल्कि अप्रत्यक्ष रूप से दुश्मन देश ड्रग्स नशा के विभिन्न रूपों से हमारे किशोरों को नशे का रोगी बनाकर देश की अर्थव्यवस्था को पटरी से उतार कर गुलाम बनाने का कार्य बहुत बड़ी तादाद में शुरू कर चुके हैं उपरोक्त बात नशा मुक्त समाज आंदोलन अभियान कौशल के तहत सोसाइटी योग ज्योति इंडिया के सहयोग से विश्व तंबाकू निषेध दिवस के परिप्रेक्ष्य में दुबग्गा लखनऊ में आयोजित नशा मुक्त भारत चौपाल में भारत सरकार के केंद्रीय शहरी आवास एवं विकास राज्य मंत्री कौशल किशोर ने कही उन्होंने आगे कहा कि जिस प्रकार से पिछले कुछ माह से भारी मात्रा में पड़ोसी मुल्कों से भेजी गई ड्रग्स की खेप पकड़ी गई है वह न सिर्फ चिंताजनक है बल्कि हमारे पूरे सिस्टम को और सतर्कता बरतने की अपेक्षा करती है इस मौके पर पिछले 30 वर्षों से ज्यादा समय से नशा मुक्त युवा भारत के लिए कार्य करने वाले भारत के अमर क्रांतिकारियों को अपना आदर्श मानने वाले युवाओं के आईकॉन बन चुके योग गुरु ज्योति बाबा को नशा मुक्त भारत चैंपियन ट्रॉफी से सम्मानित किया उपस्थित सभी स्वास्थ्य प्रेमियों ने ज्योति बाबा का संदेश नशा मुक्त हो भारत देश के गगनभेदी नारे लगाने के साथ करतल तालियों की गड़गड़ाहट से स्वागत किया इस अवसर पर अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख व नशा मुक्त समाज आंदोलन अभियान कौशल के नेशनल ब्रांड एंबेसडर योग गुरु ज्योति बाबा ने कहा कि शहरी विकास एवं आवासन मंत्रालय भारत सरकार द्वारा नशा मुक्त भारत चैंपियन ट्रॉफी सम्मान उन हजारों स्वास्थ्य सैनिकों को समर्पित करता हूं जिन्होंने निस्वार्थ रूप से पिछले 30 वर्षों से ज्यादा के संघर्षों के दौरान प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष सहयोगी रहे हैं और विश्व तंबाकू निषेध दिवस 31 मई को 40 जिलों में तंबाकू के विरोध में जन जागरूकता हेतु मानव श्रृंखला व सांकेतिक पुतला दहन इत्यादि अन्य कार्यक्रमों के अलावा भी किए जाएंगे ज्योति बाबा ने कहा कि परिवार की खुशहाली के लिए देश की आधी आबादी को नशे के रोग से बचाना मेरा लक्ष्य है ।इस अवसर पर नशा मुक्त भारत की शपथ ज्योति बाबा ने दिलाई प्रमुख रूप से मौजूद सहयोगी गीता पाल पंकज रावत राजेंद्र लहरी मोनू रावत कुंवर बहादुर सिंह अंशु सिंह सेगर भोला जैन इत्यादि थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here