Monday, October 18, 2021
Homeदेशविदेशओडिशा : मां माणिकेश्वरी की विश्वविख्यात छतरयात्रा के अवसर पर मो लेखा...

ओडिशा : मां माणिकेश्वरी की विश्वविख्यात छतरयात्रा के अवसर पर मो लेखा मो दुनिया आनुकूल्य में कविता आसर

ओडिशा। शाक्त परंपरा के अनुसार कलाहांडी की अधिष्ठात्री देवी मां माणिकेश्वरी की पवित्र छतरजात्रा पर “मो लेखा मो दुनियां” के सानिध्य में एक ऑनलाइन काव्य सभा का आयोजन किया गया है. उस परंपरा का जो कालाहांडी के सार्वजनिक जीवन में लंबे समय से मौजूद है. कालाहांडी जिले के प्रख्यात लेखक और पत्रकार श्री देवेंद्र कुमार बिशी ने मुख्य अतिथि के रूप में कार्यक्रम का उद्घाटन किया और कंठशिल्पी लिप्सा महाराणा ने कंठदान किये. जबकि संस्थान के अध्यक्ष खुशीराम साहू, कटक के सलाहकार भारती रथ, अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कवि भवानी शंकर नियाल, चंद्रकांत बिश्वाल, गाइड, नई दिल्ली, संपादक दुर्गशकर डे, मनमंत सवाई, अजीत कुमार भोई, ज्ञानेंद्र भोई, सनातन महाकुद उपस्थित थे। इसमें उड़ीसा से सैकड़ों कवियों ने भाग लिया. इनमें भुवनेश्वर की रीता अपराजिता मोहंती, कटक की राजकिशोर मुंडी, गंजम की कुसुम कुमारी पांडा, प्रमिला पाणि, राम चंद्र प्रधान, ममतारानी शतपति, बुलु बिसोई, ढेंकनाल की अरुंधति लेंका, बालेश्वर की सुजाता दास, निकुंजा कुमार घोष, प्रमोदिनी परिधि शामिल हैं। प्रियदर्शिनी मिश्रा, अरविंद साहू, प्रहलाद बिश्वाल, शंख खरसेल, कमलिनी चंडी, दुर्योधन चंडी, अग्नि कुमार साहू, जाजपुर से जगपुर, जगदीश शतपति, सुरेंद्र कुमार बेहरा, जगतसिंहपुर से रंजीता साहू, बलांगीर से कौस्तुब जल, सरत मनिरा सुरेंद्र जेना, सरत मनिरा सुरेंद्र जेना से भद्रक से कुमार ओझा, बरगढ़ से बेदव्यास मेहर, चंदन सोनी, कंधमाल से समीर कहार, अनुगोल से सुब्रत कुमार प्रधान, केंदुझार से रतिनारायण राउत, पुरी से निवेदिता महापात्रा, मलकानगिरी से भबग्रही त्रिपाठी ने अपने भक्ति कविता के माध्यम से मां माणिकेश्वरी को समर्पित किये.

KhabarLiveIndia
i am Khabarliveindia-njriya sach dikhane ka news portal chanel.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -




Most Popular

Recent Comments