चोरी गई 65 लाख की सरिया, ट्रेलर, स्कार्पियो, बुलेट, तमंचा,फर्जी नं.प्लेट सहित एक अभियुक्त गिरफ्तार

0
65

रवीन्द्र त्रिपाठी

फतेहपुर । पिछले दिनों सरिया से भरा ट्रेलर गायब हो जाने के मामले में पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह के कुशल निर्देशन में सदर कोतवाली पुलिस ने एक अभियुक्त को मय चोरी की गई सरिया, ट्रेलर व वारदात में प्रयुक्त किए गए वाहन, असलहा फर्जी नम्बर प्लेट, सहित गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त किया है.

पुलिस अधीक्षक द्वारा गठित गठित टीम में सदर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अरुण कुमार चतुर्वेदी व स्वाट टीम के प्रभारी उपनिरीक्षक विनोद कुमार के नेतृत्व में पड़ताल शुरू कराई थी .पुलिस ने चोरी गया एक ट्रेलर नंबर एन एल 1ए7802,सरिया 32 टन 700 किलोग्राम 20 एमएम व 12 एमएम कीमत लगभग ₹6500000, घटना में प्रयुक्त एक बुलेट मोटरसाइकिल यूपी 78 एक्यू 1910 ,एक स्कॉर्पियो सफेद यूपी 71 एक्यू 3301 ,एक फर्जी नंबर प्लेट जे एच-05 सी वी 3301,एक तमंचा 12 बोर ,एक जिंदा कारतूस 12 बोर, एक काला पिट्ठू बैग जिसमें कपड़े ड्राइविंग लाइसेंस एक डायरी एक काला पर्स जिसमें ₹450 नगद, आधार कार्ड व एक सैमसंग का एंड्राइड मोबाइल फोन तथा एक लावा कीपैड मोबाइल फोन के साथ अभियुक्त निहाल खान 40 वर्ष पुत्र इकराम खान निवासी शेखुपुर सनैया थाना अरिआरी जिला शेखपुर बिहार को गिरफ्तार करके न्यायालय में पेश किया . इस वारदात का पर्दाफाश करने वाली टीम में सदर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अरुण कुमार चतुर्वेदी, वरिष्ठ उपनिरीक्षक प्रभु नाथ यादव, उपनिरीक्षक सुमित नारायण प्रभारी चौकी जेल रोड, हेड कांस्टेबल आत्माराम, नीरज चौरसिया ,शैलेंद्र कुमार, चंद्रभान, हेड कांस्टेबल विपिन कुमार, कांस्टेबल विश्वेंद्र कुमार ,महिला कॉन्स्टेबल चंचल, रिंकी, स्वाट प्रभारी उपनिरीक्षक विनोद कुमार, उप निरीक्षक हेमेंद्र प्रताप सिंह कांस्टेबल पंकज सिंह ,अजय पटेल, इंद्रजीत, शैलेंद्र सिंह ,अनिल दुबे, विपिन मिश्रा आज शामिल है

ट्रेलर चालक को नशीला पदार्थ पिलाकर हुई थी सरिया लूट

फतेहपुर। झारखंड से सरिया लेकर निकला ट्रेलर(ट्रक) को वाराणसी में चालक को चाय में नशीला पदार्थ पिलाकर लूट लिया गया. जीपीएस की लोकेशन न मिलने पर ट्रेलर की तलाश करते हुए फतेहपुर शहर पहुंचे। मैनेजर ने गोदाम के पास ट्रेलर खड़ा देख पुलिस को खबर दी.पुलिस ने बिहार के एक युवक को दबोच लिया लेकिन मास्टर माइंड गोदाम मालिक समेत अन्य बदमाश भाग निकले.हरियाणा के रहने वाले चंद्रप्रकाश सुपर सोनिक लॉजिस्टिक कंपनी कोलकाता में मैनेजर हैं. उन्होंने बताया कि कपंनी का ट्रेलर जमशेदपुर के चाईबासा से करीब 65 लाख कीमत की 32 टन सरिया लेकर आठ मार्च को नोएडा के लिए चला था। नौ मार्च 11: 57 बजे ट्रेलर का जीपीएस सिस्टम और चालक का मोबाइल बंद हो गया। यूपी के फतेहपुर जिले के क्षेत्र खागा टोल प्लाजा पर दस मार्च को फास्टटैग से टोल टैक्स कटा। ट्रेलर खागा के आसपास होने की जानकारी मिली। ट्रेलर की तलाश करते कंपनी मैनेजर फतेहपुर पहुंचे. उन्हें खागा जाना था। हाईवे पर जाम लगा होने पर नउवाबाग में पुलिस कर्मी ने शहर के अंदर से कार मुड़वा दी.महर्षि विद्या मंदिर स्कूल के मोड़ पर ट्रेलर खड़ा देख कंपनी मैनेजर ने पुलिस को सूचना दी.ट्रेलर ओमप्रकाश बाजपेयी उर्फ संतू के गोदाम में खड़ा था। पुलिस को चकमा देकर ओमप्रकाश भाग निकला. ट्रेलर के पास बिहार के जिला शेखपुरा कोतवाली क्षेत्र के कनइया निवासी निहाल खान को पकड़ा गया. गोदाम में ओमप्रकाश की स्कार्पियो और बुलेट मोटर साइकिल भी मिली.ट्रेलर लूट में शामिल कुछ लोगों की सूचना पर पुलिस होटल पहुंची लेकिन वहां कोई नहीं मिला.पुलिस के अनुसार निहाल ने बिहार के इमरान खान, ओमप्रकाश बाजपेयी व कुछ अन्य साथियों के साथ ट्रेलर लूटना कबूल किया। बताया कि वाराणसी में हाईवे के एक ढाबे पर ट्रेलर चालक को चाय में नशीला पदार्थ पिलाकर बेहोश किया. उसे प्रयागराज के नवाबगंज के पास फेंका कर ट्रेलर फतेहपुर ले आए थे.पुलिस चालक रामदरश सिंह चौहान निवासी इब्राहीमपुर जिला गाजीपुर की तलाश में जुटी है। प्रयागराज पुलिस से भी संपर्क किया गया है। कार्यवाहक कोतवाल प्रभुनाथ यादव ने बताया कि चालक और अन्य लुटेरों की तलाश की जा रही है।निहाल ने बताया कि उनके पास एक खाली ट्रक था. उसे हुसैनगंज मार्ग पर खड़ा किया गया है। पुलिस के पहुंचने से पहले लुटेरे ट्रक लेकर भाग गए. खाली ट्रक का बदमाश सरिया बेचने के लिए लोडिंग में इस्तेेमाल करते.लुटेरों ने ट्रेलर में फर्जी नंबर प्लेट जेएच 05 सीवी 0179 लगा रखी थी। मैनेजर चंद्रप्रकाश ने बताया कि ट्रेलर का नंबर नागालैंड का है। कंपनी के नाम की पेटिंग से वह ट्रेलर को पहचान गए। उन्हें अंतिम लोकेशन खागा में मिली थी.ओमप्रकाश बाजपेयी मलवां थाना क्षेत्र के दावतपुर का रहने वाला है। जेल के पीछे साईं विहार कालोनी में करीब एक बीघा में उसका घर है। महर्षि स्कूल के पास उसका गोदाम है। ओम प्रकाश दो साल पहले औरेया जिले में चालक की हत्या कर ट्रक लूट में पकड़ा गया था.एक माह पहले भी खागा कोतवाली क्षेत्र में हाईवे पर सरिया लदा ट्रेलर लूट की कोशिश में भी उसके गैंग का हाथ माना जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here