आल इण्डियन रिपोर्टर्स एसोसिएशन की मासिक बैठक आज संस्‍था के गीतानगर कार्यालय में आयोजित की गयी। इस बैठक में सर्वसम्मति से तय किया गया कि पत्रकार हितों के संरक्षण हेतु गठित संगठन आईरा पत्रकार उत्‍पीड़न के मामलों में सभी सम्‍भव मदद करने को तैयार है पर संस्‍था सदस्‍यों के अनैतिक कार्यो में उनकी मदद नहीं करेगी।

इस बैठक में आईरा के राष्ट्रीय मुख्‍य महासचिव पुनीत निगम जी, प्रदेश महासचिव अविनाश श्रीवास्‍तव जी, प्रदेश संयुक्‍त सचिव संजय शर्मा जी आदि वक्‍ताओं ने आईरा की निरन्‍तर प्रगति के लिये भविष्‍य की कार्य योजना बताई और उस पर अमल करने की रूपरेखा भी बताई।

KhabarLiveIndia.com

आईरा के राष्‍ट्रीय मुख्‍य महासचिव पुनीत निगम ने बताया कि आईरा संगठन पत्रकार हितों के लिये संघर्ष करने वाला भारत का प्रमुख पत्रकार संगठन है। ये गुण्‍डों का दल नहीं है और हमने अपने सदस्‍यों को डग्‍गा दिलवाने या उनके अवैध वसूली के मामलों में पैरवी करने का ठेका नहीं लिया है। हम किसी भी गलत काम को सत्‍यापित नहीं करते न ही किसी सदस्‍य के अनैतिक कार्यो में उसका साथ देते हैं।

आईरा सदस्‍यों के आपसी मसलों एवं उन पर लगे आरोपों की जांच हेतु स्‍थाई जांच समिति का गठन किया गया है जिसमें डा. विपिन शुक्‍ला, गोपाल गुप्‍ता, गिरीश शुक्‍ला (शीलू) एवं अजय श्रीवास्‍तव शामिल हैं। यह समिति सर्वाधिकार सम्‍पन्‍न होगी और दोषी सदस्‍यों को उचित दण्‍ड देने की अनुशंसा करेगी जिसे राष्‍ट्रीय कोर कमेटी लागू करवायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here