पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर श्रमजीवी पत्रकार कल्याण समिति ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

0
45

कानपुर। जिस तरह से देशभर में जगह-जगह देश के चौथे स्तंभ पत्रकारों की कलम को दबाया जा रहा है आए दिन कलम के सिपाहियों की हत्या की जा रही है. जहां एक तरफ देश के चौथे स्तंभ को यह कहा जा रहा है कि देश का चौथा स्तंभ पूरी सुरक्षित हैं तो वहीं कहीं ना कहीं प्रतिदिन इस तरह के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. कानपुर में भी बीते दिन अस्पताल की खबर बनाने गए पत्रकार साथियों को मारपीट कर उनके साथ दुर्दशा कर उनके कैमरा को छीना और साथ ही यह धमकी भी दी गई कि पत्रकार को केवल जो कहा जाए वही लिखा जाएगा.

श्रमजीवी पत्रकार कल्याण समिति के जिला अध्यक्ष विपिन सागर ने कहा कि पत्रकारों के हित के लिए अगर सरकार ने जल्द कदम नहीं उठाया तो कहीं ना कहीं देशभर के पत्रकार साथी एकत्रित होकर आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे. हालांकि कानपुर जिलाधिकारी आलोक तिवारी ने कानपुर डीआईजी को निर्देश करते हुए यह की जांच कर जल्द से जल्द मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही करें साथ ही स्वास्थ्य विभाग के सीएमओ को निर्देशित करते हुए अस्पताल की पूरी जांच करने का तत्काल प्रभाव का आदेश भी कर दिए है.

इस मौके पर राष्ट्रीय सचिव नीरज तिवारी संरक्षक अशोक सिंह दद्दा, बलराज मीणा, पत्रकार पिंटू सिंह, अंकित चौधरी, डी०के सिंह, मोनू वर्मा, अमित राजपूत, अमित शर्मा, राहुल भदौरिया, महेश सोनकर, अनिल सैनी, प्रशांत सिंह, मो०शानू, सूरज शुक्ला, पत्रकार राजन साहू, नौशाद, नीरज तिवारी, आशीष साहू, सुनील वर्मा, सुनील कश्यप आदि पत्रकार साथी मौजूद रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here